मेरा अपना संबल

रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा : मो. नं. 9717630982 पर करें एसएमएस

रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा   :  मो. नं. 9717630982 पर करें एसएमएस
रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा : मो. नं. 9717630982 पर करें एस.एम.एस. -- -- -- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ट्रेन में आने वाली दिक्कतों संबंधी यात्रियों की शिकायत के लिए रेलवे ने एसएमएस शिकायत सुविधा शुरू की थी। इसके जरिए कोई भी यात्री इस मोबाइल नंबर 9717630982 पर एसएमएस भेजकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। नंबर के साथ लगे सर्वर से शिकायत कंट्रोल के जरिए संबंधित डिवीजन के अधिकारी के पास पहुंच जाती है। जिस कारण चंद ही मिनटों पर शिकायत पर कार्रवाई भी शुरू हो जाती है।

जुलाई 06, 2010

727 गल्तियों वाली पुस्तक

यह कोई बाजारू नहीं बल्कि सरकारी  पुस्तक  है , जिसे छ्त्तीसगढ़ शासन ने अपने पाठ्य पुस्तक निगम से छपवाया है ,जिसमें कुल 727 जगह गल्तियाँ हैं।यह  पुस्तक है कक्षा नवमीं की गणित।
जिसमे 8 यूनिट और 20 चेप्टर हैं  । हर चेप्टेर में ढेरों गल्तियाँ हैं । यहाँ तक की इस  पुस्तक के मुखय पेज (कव्हर) पर भी छत्तीसगढ़ बोर्ड ओफ़ सेकेण्ड्री एजुकेशन की स्पैलिंग गलत प्रिन्ट है ।  पिछले वर्ष भी यह  पुस्तक स्कूली बच्चों को दे दी गई थी । रायगढ़ के एक जागरूक शिक्षक ने अपने विभागीय अधिकारियों को इस आशय की शिकायत भी की थी ,लेकिन कुछ भी ना हो सका । इस वर्ष भी  दूसरा कोई विकल्प न होने की वजह से , वही गल्तियों से भरी गणित की किताब हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम के बच्चे खरीदने को मजबूर हैं ।  गल्तियों से भरी यह पुस्तक बाजार में 71 रूपये की कीमत पर उपलब्ध है । पाठ्य  पुस्तक छापने वाला विभाग कहता है उसने गल्तियाँ सुधार दी हैं , लेकिन किताब में गल्तियाँ जस की तस हैं ।सरकारी पुस्तकों की छ्पाई , कागज की रद्दी किस्मों  और बाईंडिग को लेकर हर वर्ष चर्चा रहती ही थी । अब पुस्तकों में प्रकाशकीय त्रुटि को लेकर भी स्कूली बच्चे और उनके अभिभावक  परेशान हैं ।भला नक्कार खाने में तूती कभी सुनी गई है जो अब सुने जाने की उम्मीद की जाए ?      जय हो छ्त्तीसगढ़ की ।

2 टिप्‍पणियां:

  1. satya hai, maine bhi ek pustak dekhi thi.
    jisme bahut galtiyan thi.

    ye proof ki galti sabhi me hai.

    jiski jimme dari hai use nilambit karnaa chahiye.

    aur prakashak ko bleck listed karna chahiye

    उत्तर देंहटाएं
  2. प्रदेश पाठृय पुस्‍तक निगम की जय हो, नंदकुमार जी तो ऐसे ना थे ............... ?

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणी के लिए कोटिशः धन्यवाद ।

फ़िल्म दिल्ली 6 का गाना 'सास गारी देवे' - ओरिजनल गाना यहाँ सुनिए…

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...