मेरा अपना संबल

रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा : मो. नं. 9717630982 पर करें एसएमएस

रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा   :  मो. नं. 9717630982 पर करें एसएमएस
रेलवे की एस.एम.एस. शिकायत सुविधा : मो. नं. 9717630982 पर करें एस.एम.एस. -- -- -- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ट्रेन में आने वाली दिक्कतों संबंधी यात्रियों की शिकायत के लिए रेलवे ने एसएमएस शिकायत सुविधा शुरू की थी। इसके जरिए कोई भी यात्री इस मोबाइल नंबर 9717630982 पर एसएमएस भेजकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। नंबर के साथ लगे सर्वर से शिकायत कंट्रोल के जरिए संबंधित डिवीजन के अधिकारी के पास पहुंच जाती है। जिस कारण चंद ही मिनटों पर शिकायत पर कार्रवाई भी शुरू हो जाती है।

नवंबर 19, 2010

जमीन से जुड़े नेता - अधिकारी

महाराष्ट्र और कर्नाटक के मुख्यमंत्रियों की कुर्सी  जमीन से ही उखड़-हिल गई ,जमीन विवादों से । इस खबर ने छत्तीसगढ़ के सत्ताधीशों को शायद चिंतित जरूर किया होगा । यहाँ के हमारे सत्तासीन और कुछ सत्ताच्युत लोग जमीन से काफ़ी गहरे तक जुड़े हैं । अगर जमीन से जुड़े नेताओं की कुर्सी जमीन से उखाड़ने का यही क्रम कुछ दिनों और जारी रहा और इसकी आँच हमारे प्रदेश तक पहुँची तो न जाने क्या होगा ? क्योंकि हमारे नेता कुछ ज्यादा ही जमीन से जुड़े हैं । इन्होने तो कभी सोचा भी नहीं था कि इतने बड़े राज्यों में जहाँ का मेनेजमेंट इतना तगड़ा हो वहाँ भी मुख्यमंत्री जैसों कि कुर्सी ऐसे मुद्दों पर जा सकती है , भला यह भी कोई मुद्दा है ? हमारे यहाँ तो यह खुल्ला व्यापार है, कोई भी कितना भी कर सकता है । अरे नेता ही नहीं हमारे यहाँ तो अधिकारीगण भी इस मामले में पीछे नहीं हैं । सच्चा सर्वे हो तो पता चल जायेगा किस किस ने किनके-किनके नाम पर कितनी हजार एकड़ जमीनें ले रखीं हैं । भाई - बाई , नाते-रिश्तेदार , नौकर-चाकर, दोस्त-यार, सबके नाम हैं जमीनें एक कांग्रेस नेता ने अपने क्षेत्र के तमाम मतदाताओं के नाम तमाम जमीनें -फ़्लैट्स खरीद रखा है । क्या होगा जब ऐसों पर गाज गिरेगी ? हम छत्तीसगढ़वासी तो भगवान से बस यही प्रार्थना करते हैं कि कभी हमारे यहाँ भी इंसाफ़ की नजरें करम हों । किसानों को उनकी जमीनें खेती के लिए वापस हो-विपक्ष अपने दायित्व को समझे -निभाने का साहस करे, केवल दिखावे का हंगामा खड़ा कर अपना मकसद न बनाए । आप भी कहें  "आमीन" ।

2 टिप्‍पणियां:

  1. आप तो बस घडा भरने का इन्तेज़ार करो भर गया तो फुटेगा ज़रुर,वहा देर है अन्धेर नही है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Chhattisgarh is worst hit. Every BHIKHARI NETA, especially of the BJP is a multi millioner and has a huge land bank. Officers are equally courageous.
    The last 7 yrs have proved to be a boon for both of these species. Dr. Raman Singh is only enjoying his tenure only because he has successfully bought out the WHOLE OPPOSITION & MEDIA. Samay ka CHAKRA sthir nahi hota.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी मूल्यवान टिप्पणी के लिए कोटिशः धन्यवाद ।

फ़िल्म दिल्ली 6 का गाना 'सास गारी देवे' - ओरिजनल गाना यहाँ सुनिए…

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...